जल संसाधन – कसडोल डिविजन के किस्से

जल संसाधन के भाग्य विधाता के पास जल संसाधन – कसडोल डिविजन के अनेको निर्माण कार्य में गंभीर अनियमितता से संबंधित शिकायत दीमक खाते हुये सड़ रही हैं जिस कारण जल संसाधन – कसडोल डिविजन में भारी भ्रष्टाचार व अनियमिता व्याप्त हैं, सूत्रों की माने तो जल संसाधन के भाग्य विधाता के मनाही के कारण सूचना के अधिकार की धारा – 4 को लागू नही किया जा रहा हैं, जिस कारण

किसी भी डिविजन में किस माह कितनी राशी का भुगतान हुवा वो पता नही चल पाता जबकि

माननीय उच्च न्यायालय, बिलासपुर के निर्णय के तहत जल संसाधन डिविजन  को सूचना के अधिकार की धारा – 4 का पालन करना चाहिए अगर जनता को पता चल जावेगा की कौन – कौन जल संसाधन डिविजन को कितना कितना भुगतान ठेकेदारो को किया गया है तो आला कमान उनसे हिसाब मागेगा इसीलिए वे माननीय उच्च न्यायालय, बिलासपुर के आदेश का पालन नही होने देते वही लगभग सभी डिविजन में ये मौखिक आदेश दे रखे है की किसी भी सूचना के अधिकार के आवेदन में जानकारी नही देनी है जिस तारतम्य में मेरे भी आवेदन क्रमांक

1717 – 04 – 183, दिनांक 8 – 9 – 2017 व

1717 – 04 – 184, दिनांक 8 – 9 – 2017 की जानकारी जल संसाधन – कसडोल नही दे रही हैं जब बेईमान नही हो तो डर किस बात का ?    

विशेष  सूचना -  यदि किसी समाचार को रोकने या चलाने संबंधी दावा किया जाता है तो संपर्क करें -  अनिल अग्रवाल , 7999827209

सोशल मीडिया

संपर्क करें

अनिल अग्रवाल
संपादक
दानीपारा, पुरानी बस्ती
रायपुर,  छ्त्तीसगढ
492001
Mobile   - 7999827209
Email    - anilvafadar@gmail.com
website - http://www.vafadarsaathi.com

Please publish modules in offcanvas position.